English
Urdu

a fracture in the penis is possible

ये एक बहुत ही असामान्य समस्या है, ऐसा तब होता है जब पेनिस यानी लिंग इरेक्ट होता है और अचानक से उसको मोड़ दिया जाए। तब पेनिस फ़्रैक्चर होता है। इसमें अंदरूनी मांसपेशियों यानि काॅरपस केवरनोसम में जख्म हो जाता है। काॅरपस केवरनोसम की वजह से ही लिंग में इरेक्शन होता है।

लिंग के फ्रैक्चर का कारण:

इसके कई कारण हो सकते हैं। सेक्स के दौरान अगर महिला डाॅमीनेट पोजीशन ( महिला ऊपर हो ) में हो, खेल या फिर गोली लगने से भी पेनिस फ़्रैक्चर की समस्या हो सकती है।

तनाव की स्थिति में अगर अचानक से पेनिस मुड़ जाता है तो इसमें मौजूद बारीक कोशिकाएं और आवरक झिल्ली यानि टयूनिक अल्बुगिनिया टूट जाती है जिससे पेनिस फ़्रैक्चर हो जाता है (मजबूत फाइबर्स की सतह और टिशू इसके टूटने का मुख्य कारण हैं) पेनिस में दो कारपोरा मसल्स होते हैं जिनमें से किसी एक पर या दोनों पर अगर चोट लगती है तो लिंग फ़्रैक्चर हो सकता है। इसके साथ पेशाब करने के रास्ते को भी चोट पहुंच सकती है।

लिंग के फ्रैक्चर के लक्षण:

पेनिस अगर टूटता है तो उस दौरान अचानक चटकने की आवाज आती है और दर्द के साथ इरेक्शन खत्म हो जाता है। इसमें चोट और जख्म के मुताबिक सामान्य या जरूरत से ज्यादा दर्द हो सकता है। पेनिस में सामान्य से ज्यादा झुकाव, सूजन और छूने में लिंग सख्त लगता है, इसके साथ ही अगर पेशाब करने में दर्द होता है और पेशाब के साथ खून भी आता है।

क्या होती हैं दिक्कतें?

ये दिक्कतें हो सकती हैं-

  • इरेक्शन में समस्या यानि लिंग में तनाव की समस्या
  • आसामान्य पेनिस का झुकाव
  • इरेक्शन में दर्द
  • फाइब्रोटिक प्लेक के बनने से
  • पेनिस में फोड़ा
  • पेनिस में चोट या घाव, सूजन
  • कार्पोयूरेथ्रल फिस्टुला
  • चोट के स्थान पर दर्द वाले दाने या मस्से आना