English
Urdu

Hashmi Dawakhana Amroha Address

  • 21
  • May
  • 0
Author

Hashmi Dawakhana Amroha Address

कई नवयुवक मानसिक रोगी होते हैं, वास्तव में उन्हें बीमारी नहीं होती है चालाक और बाजारी हकीम इनकी कमजोरी से लाभ उठाकर इनके सन्देह को बढ़ाते हैं और स्वस्थ पुरुष को रोगी बना देते हैं।   ऐसे नवयुवक अपनी अज्ञानता के कारण कभी कभी आत्महत्या कर लेते हैं। क्योंकि वे समझते हैं कि उनका जीवन […]
  • 19
  • May
  • 0
Author

Hashmi Dawakhana in Hindi

कई नवयुवक मानसिक रोगी होते हैं, वास्तव में उन्हें बीमारी नहीं होती है चालाक और बाजारी हकीम इनकी कमजोरी से लाभ उठाकर इनके सन्देह को बढ़ाते हैं और स्वस्थ पुरुष को रोगी बना देते हैं। ऐसे नवयुवक अपनी अज्ञानता के कारण कभी कभी आत्महत्या कर लेते हैं। क्योंकि वे समझते हैं कि उनका जीवन अब […]
  • 19
  • May
  • 0
Author

hashmi dawakhana in delhi contact

दिल की बात अपने दिल की बात आज ही हकीम साहब को ईमेल या फोन द्वारा बता दें या स्वयं मिलें। फोन पर ही आपको कीमती परामर्श मिल जाऐगा परमात्मा ने चाहा तो उनके परामर्श पर अमल करके आप एक नया जीवन प्राप्त कर सकेंगे। मायूसी कमजोरी और निराशा का जीवन भी कोई जीवन है। […]
  • 18
  • May
  • 0
Author

Hashmi Dawakhana Amroha, Uttar Pradesh 244221

दिल की बात अपने दिल की बात आज ही हकीम साहब को ईमेल या फोन द्वारा बता दें या स्वयं मिलें। फोन पर ही आपको कीमती परामर्श मिल जाऐगा परमात्मा ने चाहा तो उनके परामर्श पर अमल करके आप एक नया जीवन प्राप्त कर सकेंगे। मायूसी कमजोरी और निराशा का जीवन भी कोई जीवन है। […]
  • 3
  • Oct
  • 2
Author

स्त्री का ठंडापन

स्त्री के ठंडापन होने में सारा दोष पुरूष को भी नहीं देना चाहिए क्योंकि कभी कभी स्त्रियों में ठंडापन विवाह से पहले भी होता है जैसे स्त्री के गर्भाशय व स्त्री यौनांगों में कोई त्रुटि होना, अन्दर की स्त्रावी ग्रन्थियों की अव्यवस्था, कमजोरी, रक्तविकार,गर्भाधान का भय, सम्भोग के प्रति गलत दृष्टिकोण या कष्टपूर्ण समागम का […]
  • 2
  • Oct
  • 2
Author

सफल जीवन का रहस्य

सुबह सवेरे उठकर प्रतिदिन सैर करें यदि हो सके तो कुछ व्यायाम करें। भोजन हल्का, सन्तुलित व जल्दी ही हज़्ाम होने वाला करें। रात्रि को भोजन सोने से 2-3 घंटें पहले ही कर लें। कब्ज़ न रहने दे। हस्तमैथुन न करे, गन्दे उपन्यास तथा अश्लील साहित्य न पढ़े मन के विचार शुु(अच्छा साहित्य पढ़े जब […]
  • 2
  • Oct
  • 2
Author

स्त्री रोग जनित सन्तानहीनता

ऐसी अवस्था में पुरुष तो सन्तान पैदा करने योग्य होता है तथा उनमें शुक्राणु भी सामान्य अवस्था में पाये जाते हैं। लेकिन उनकी पत्नी की गर्भधारण क्षमता कम या समाप्त हो जाती है। कभी कभी स्त्री गर्भाशय में सूजन होती है जिससे नलों व पूडे में दर्द बना रहता है, मासिक चक्र अनियमित हो जाता […]
  • 2
  • Oct
  • 2
Author

नि:संतान लोगों के जरूर परामर्श

विवाह के बाद हर स्त्री पुरूष की यही इच्छा होती है कि उनके घर भी एक नन्हा मुन्ना शिशु फूल के रूप में उनकी गृहस्थी की बगिया में खिले। पुरुष की कामना यही रहती है कि उस शिशु के रूप में उसकी वंश बेल विकसित हो तथा पीढ़ी दर पीढ़ी उसका भी नाम चलता रहे […]
  • 2
  • Oct
  • 0
Author

श्वेत प्रदर (लिकोरिया)

यह रोग स्त्रियों के स्वास्थ्य पर बुरा असर डालता है। सामान्य रूप से योनि का गीला रहना कोई दोष नहीं है लेकिन कुछ स्त्रियों को गर्भाशय की झिल्ली व योनि मार्ग से तरल द्रव्य का स्त्राव इतना अधिक होता है कि पहने हुए अन्दर के कपड़ों पर भी दाग या धब्बे पड़ जाते हैं। यह […]
  • 2
  • Oct
  • 0
Author

स्त्री रोग

मालिक ने स्त्री और पुरुष को एक दूसरे के लिए बनाया है लेकिन दोनों की शरीर संरचना अलग अलग होती है। जो लोग केवल स्त्री संरचना में केवल स्त्री को ही होते हैं उन्हें स्त्री रोग कहते हैं। ये रोग भी काफी कष्टकारी होते हैं। कमर, शरीर में दर्द होता है, शरीर थका थका सा […]