English
Urdu

what is hypothyroidism symptom checker

महिलाएं थायराइड की सबसे ज्यादा शिकार होती हैं। स्थिति यह है कि हर दस थायराइड मरीजों में से आठ महिलाएं ही होती हैं। उनका वजन बढ़ने की एक बड़ी वजह यह भी है। इससे तनाव, अवसाद, नींद ठीक से न आना, कोलेस्ट्रॉल, आस्टियोपोरोसिस, बांझपन, पीरियड का टाइम पर न आना, दिल की धड़कन बढ़ना जैसी परेशानियां सामने आ सकती हैं। थायराइड शरीर का एक प्रमुख एंडोक्राइन ग्लैंड है, इसमें से थायराइड हार्मोन का स्राव होता है जो हमारे मेटाबालिज्म की दर को संतुलित करता है। थायराइड हार्मोन का स्राव जब असंतुलित हो जाता है तो शरीर की समस्त भीतरी कार्यप्रणालियां अव्यवस्थित हो जाती हैं। थायराइड की समस्‍या होने पर कई तरह के लक्षण सामने आते हैं। दर्द होना कॉमन है लेकिन इससे जुड़ी संकेतों को नजरअंदाज कर दिया जाता है।

थायराइड की समस्‍या होने पर कई तरह के लक्षण सामने आते हैं। दर्द होना कॉमन है लेकिन इससे जुड़ी संकेतों को नजरअंदाज कर दिया जाता है।

– हायपरथायराइड से पीडि़त लोगों में मांसपेशी और जोड़ों में दर्द हो सकता है, खासकर बांह और पैर में। इसके अलावा बांह के ऊपरी हिस्‍से में दर्द भी हो सकता है।

– गर्दन में सूजन का एहसास, गर्दन के आकार का बढ़ना, नेकटाई पहनने में असुविधा, निगलने में दिक्‍कत, आवाज में बदलाव आदि थायराइड के लक्षण हो सकते हैं।

– जब थायराइड का आकार बढ़ जाता है तो यह ग्‍वाइटर (घेघा) कहलाता है। यह थायराइड के दोनों प्रकार के लक्षण हो सकते हैं।

– बालों का झड़ना, स्किन में बदलाव आदि भी इसके लक्षण हो सकते हैं।

– कब्‍ज, पेट संबंधी समस्‍या, डायरिया आदि भी थायराइड के लक्षण हो सकते हैं।

– मासिक अनिय‍मितता और प्रजनन संबंधी बीमारी भी इसके लक्षण हो सकते हैं।

– परिवार में थायराइड और ऑटोइम्‍यून बीमारियों से जुड़ी बातों का इतिहास।

थायराइड को खत्म करने के कुछ घरेलू उपाय

1. लौकी
थायराइड की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए रोजाना सुबह खाली पेट लौकी का जूस पिए। इसके बाद एक गिलास ताजे पानी में तुलसी की एक दो बून्द और कुछ मात्रा में एलोवेरा जूस डालकर पिए। अब आप आधे से एक घण्टे तक कुछ ना खाये पिए। रोजाना ऐसा करने से थायराइड की बीमारी जल्दी ठीक हो जायेगी।
2. विटामिन ए
थायराइड के मरीज को अपने भोजन में विटामिन ए की मात्रा बढा देनी चाहिए। विटामिन ए थायराइड को धीरे धीरे कम करता है। गाजर और हरी पत्तेदार सब्जियों में विटामिन ए अधिक मात्रा में पाया जाता है।
3. काली मिर्च
थायराइड को ठीक करना चाहते है, तो तुरंत काली मिर्च का सेवन शुरू करे। काली मिर्च का सेवन करने से थायराइड की बीमारी ठीक हो जाती है। काली मिर्च का सेवन आप किसी भी प्रकार से कर सकते है।
4. हरा धनिया
हरे धनिये के इस्तेमाल से थायराइड को ठीक किया जा सकता है। ताजे हरे धनिये को बारीक़ पीसकर इसकी चटनी बना ले। अब इस चटनी को रोजाना एक गिलास पानी में घोलकर पिए इससे थायराइड धीरे धीरे कण्ट्रोल होने लगता है।
5. अंडा
अंडा खाना भी थायराइड के मरीज के लिए फायदेमंद है। अंडा खाने से थायराइड कण्ट्रोल में रहता है।
6. आयोडीन
थायराइड के मरीज को आयोडीन (Iodine) का अधिक मात्रा में सेवन करना चाहिए। आयोडीन (Iodine) प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका है, प्याज, लहसुन, टमाटर जैसी आयोडीन (Iodine) युक्त चीजो का सेवन करे।
7. व्यायाम
रोजाना आधे से एक घण्टे का व्यायाम जरूर करे। व्यायाम करने से शरीर स्वस्थ रहता है, थायराइड भी कण्ट्रोल में रहता है।
8. नारियल पानी
नारियल पानी भी थायराइड को कण्ट्रोल करने में सहायक है। रोजाना ना हो सके तो कम से कम एक दिन छोड़कर एक नारियल पानी जरूर पिए।