English
Urdu

indications of bronchitis is bronchitis contagious

रोंकाइटिस नाक और फेफड़े के बीच सांस लेने वाली नली में सूजन के वजह से होती है। यह प्राय वाइरल इंफेक्शन से होता है। गले में खिचखिच, कांटो जैसी चुभन और दर्द होना इसके लक्षण हैं। मौसम में बदलाव और एलर्जी से भी ब्रोंकाइटिस की शिकायत होती है। इसमें कभी-कभी बुखार की भी शिकायत होती है।

ब्रोंकाइटिस में खराश या दर्द होने से खाना खाने, पानी पीने या थूक निगलने तक में तकलीफ होती है। इससे निजात पाने के लिए डॉक्टर की मदद लेने से बेहतर है कि कुछ घरेलू इलाज किए जाने चाहिए जो काफी असरदार भी होता है।

ब्रोंकाइटिस में खराश के घरेलू इलाज(Home remedies for Bronchitis)

शहद (Honey)

शहद में एंटी वायरल और एंटी बैक्टीरियल गुण होता है। गले में खराश होने पर शहद या शहद वाली चाय पीने से सूजन कम होती है और गले को काफी आराम मिलती है। गले में खराश में यह काफी फायदेमंद होता है।

अदरक (Ginger)

सर्दी, कफ और गले की खराश में अदरक गले को काफी आराम पहुंचाता है। अदरक में एंटी इंफ्लामेट्री गुण होता है। अदरक का रस, अदरक की चाय पीने या अदरक चूसने से गले की सूजन, खराश में काफी आराम मिलता है।

हर्बल चाय (Herbal Tea)

काली मिर्च, तुलसी व लौंग से बनी चाय पीने से गले में खराश से निजात मिलती है। इन कुदरती जड़ी-बूटियों से बनी गर्म चाय की चुस्कियों से गले को काफी राहत मिलती है। वैसे हर्बल चाय कई बीमारियों में भी काम आता है।

हल्दी (Turmeric)

थोड़ी सी हल्दी डालकर दूध में उबाल लें। दूध तब तक उबालें जब तक हल्दी पक ना जाएं. फिर इसे कप में लेकर चाय की चुस्कियां लेते हुए पिएं। इससे गले के दर्द में  और खराश में काफी राहत मिलेगी।

गरारा (Gargil)

गले में खराश की शिकायत होने पर गर्म पानी में नमक डालकर गरारे करें। नमक मिला गर्म पानी आपके गले में इंफेक्शन की वजह से आई सूजन को कम करता है और आराम पहुंचाता है। बेहतर होगा कि जल्दी राहत के लिए आप हर तीन घंटे में गरारे करें।

तरल पदार्थ (Liquid)

आप थोड़ी-थोड़ी देर में कुछ गर्म तरल पदार्थ लेते रहें। कुछ भी नहीं तो आप थोड़ी-थोड़ी देर में गर्म पानी पीते रहें। इससे आपके गले की सिकाई होगी और आपको आराम मिलेगा।

लहसुन (Garlic)

लहसुन में एंटी-बायोटिक और एंटी वायरल गुण होते हैं। गले की सूजन और खराश में यह काफी असरदार होता है।  लहसुन के दो-तीन टुकड़े को पानी के साथ चबा कर सुबह खाएं या फिर दूध में उबाल कर भी पी सकते हैं।

यूकिलिप्टस तेल (Eucalyptus Oil)

गले की खराश में भाप लेना काफी फायदेमंद होता है। गर्म पानी में अगर यूकिलिप्टस के तेल को मिला कर भाप लें तो यह काफी असरदार होता है। गले की सूजन और खराश को कम करता है।