English
Urdu

what is alopecia areata

एलोपेशिया एरियाटा बाल गिरने का कारण बनता है। ज्यादातर लोग छोटे, गोल पैच में बाल खो देते हैं। कुछ लोग अधिक या अपने पूरे बाल खो सकते हैं। स्पॉट बाल्डनेस आपको दर्द महसूस नहीं करता है और आपको बीमार नहीं करता है आप इसे दूसरों को नहीं दे सकते। अगर कम उम्र में बाल झड़ रहे हैं या सिर में गंज पड़ गयी हैं, बाल बीच बीच में से उड़ गए हैं जो आजकल बहुत गंभीर समस्या बना हुआ हैं तो एक बार ये 4 घरेलु उपाय जो बालो की गंज को दूर करने में रामबाण हैं, एक बार ज़रूर आज़मा कर देखें। 

1. गंजेपन में मेथी –

मेथी दाना पीस लीजिये, थोड़ा हल्का पानी मिला कर लेप बना लीजिये और जहाँ पर भी गंज हो वहां वहां पर ये लेप नियमित करे। इससे थोड़े दिनों में गंज के स्थान पर बाल उग जाते हैं।

2. गंजेपन में कलौंजी का प्रयोग –

कलौंजी का प्रथम प्रयोग

आधा औंस(15 ग्राम) फ्रूट सिरके में आधा चम्मच कलौंजी का तेल मिलाकर, उबालकर, ठंडा होने के बाद दो चाय के चम्मच शहद मिलाकर, रात को सिर पर तीन माह नित्य लगाये, बाल उगेंगे।

कलौंजी का दूसरा प्रयोग

20 ग्राम कलौंजी, 20 ग्राम पीसी हुई मेहँदी, दोनों को 60 ग्राम सिरके में मिला ले और गंज पर अच्छी तरह लगाए। एक घंटे बाद सिर धोये। गंज दूर होकर नए सिरे से बाल उगेंगे। यह क्रिया सात दिन में एक बार करे।

कलौंजी का तीसरा प्रयोग

एक औंस (लगभग 30 ग्राम) कॉफी के पानी में आधा चम्मच कलौंजी का तेल मिलाकर नित्य दो बार प्रात: भूखे पेट व् शाम को सोते समय पियें। कलौंजी का तेल सिर में दिन में दो बार लगाना चाहिए।

3. गंजेपन में मुलहठी का प्रयोग –

मुलहठी का पाउडर, दूध एवं थोड़ी सी केसर, इन तीनो का पेस्ट बनाकर नियमित रूप से बाल आने तक पैच पर लगाए। कम से कम तीन महीने तक ये प्रयोग करे।

4. मेथी और दही

गंजेपन के उपचार में मेथी बहुत फायदेमंद साबित होती है। मेथी को 12 घंटे भिगोने के बाद इन्हे पीसकर दही में मिलाकर पेस्‍ट तैयार कर लीजिए। मेथी और दही के पेस्‍ट को बालों की जड़ों में लगाइए। इसे करीब एक घंटे तक लगा रहने दें। ऐसा करने से बालों की जड़ों में मौजूद रूसी कम होगी और सिर की त्‍वचा में नमी आएगी। मेथी में निकोटिनिक एसिड और प्रोटीन पाया जाता है जो बालों की जड़ों में पोषण पहुंचाने के साथ ही बालों की ग्रोथ भी बढ़ाता है।

5. उड़द की दाल का पेस्‍ट से गंजेपन का इलाज

उड़द की बिना छिलके वाली दाल को उबाल कर पीस लीजिए। रात को सोने से पहले इस लेप को बालों की जड़ों में लगाइए। कपड़े गंदे न हो इसके लिए सिर पर तौलिया बांध लें। ऐसा लगातर कुछ दिनों तक करने से बाल दोबारा उगने लगते हैं और गंजापन कम हो जाता है।

6. मुलेठी और केसर से गंजेपन का इलाज

मुलेठी को पीसकर इसमें थोड़ी मात्रा में दूध और केसर मिलाकर पेस्‍ट तैयार कर लीजिए। तैयार किए गए पेस्‍ट को रात को सोने से पहले सिर में लगा लीजिए। सुबह उठकर बालों में हल्‍का शैम्‍पू कर लें। ऐसा करने से धीरे-धीरे गंजापन दूर होगा।

7. केला और नींबू से गंजेपन का इलाज

एक केले के गूदे में नींबू के रस को अच्‍छे से मैश कर लें। इस पेस्‍ट को सिर पर लगाने से बालों के झड़ने की समस्‍या कम होती है। ऐसा करने से उड़े हुए बाल फिर से जमने लगते हैं।

8. प्‍याज से गंजेपन का इलाज

बड़ी प्‍याज लेकर उसके दो हिस्‍से कर लीजिए। सिर के जिस हिस्‍से से बाल उड़ गये हैं, वहां पर आधे प्‍याज को 5 मिनट तक रगड़ें। ऐसा लगातार कुछ दिनों तक करने से बाल झड़ने बंद हो जाएंगे। साथ ही बाल फिर से उगने लगेंगे।

9. एलो वेरा, प्याज और शहद से गंजेपन का इलाज

1 चम्मच एलो वेरा एक चम्मच प्याज का रस और एक चम्मच शहद मिला कर पेस्ट तैयार कर लीजिये, इसको नहाने के एक घंटे पहले बालो में लगाये। ये 3 से 6 महीने लगाने से गंजेपन में सफ़ेद बाद और झड़ते बालो में ग़ज़ब का फर्क महसूस होगा।