• 3
  • Oct
  • 2
Author

स्त्री का ठंडापन

स्त्री के ठंडापन होने में सारा दोष पुरूष को भी नहीं देना चाहिए क्योंकि कभी कभी स्त्रियों में ठंडापन विवाह से पहले भी होता है जैसे स्त्री के गर्भाशय व स्त्री यौनांगों में कोई त्रुटि होना, अन्दर की स्त्रावी ग्रन्थियों की अव्यवस्था, कमजोरी, रक्तविकार,गर्भाधान का भय, सम्भोग के प्रति गलत दृष्टिकोण या कष्टपूर्ण समागम का असर आदि कई ऐसे बहुत से शारीरिक व मानसिक कारण हो सकते हैं। जिससे ठंडापन आ जाता है। अतः समझदार पुरुष को चाहिए कि वह अपनी प्रति के पूरी सहानुभूति रखकर अपने व्यवहार आचरण व स्नेही वातावरण बनाकर अपनी स्त्री के रोग व कष्टों को जाने तथा जल्दी ही उचित इलाज द्वारा स्त्री के शारीरिक रोगों व कष्टों को दूर करके उसका ठंडापन समाप्त करें जिससे स्त्री पुरूष दोनों ही अपनी रति क्रिया का असर आनन्दपूर्वक व एक दूसरे के सहयोगी बनकर पूरा कर सकें ताकि उनका विवाहित जीवन सुखमय बन सके। हमारे सफल इलाज से ऐसी अनगिनत स्त्रियां लाभ उठाकर अपने पति के साथ पूरा सहयोग देकर अपना जीवन वास्तविक रूप से सुखमय बना चुकी है।

Avatar
admin

Comments (2)

  • रवि कुमार

    सर मेरे लिंग का आकार बहुत छोटा है और सेक्स स्टैमिना भी कम है। मेरा वीर्य स्खलन लड़की को छूने से ही कपड़ों में हो जाता है । मैं अपने लिंग का आकार कैसे बडा करू और सेक्स स्टैमिना कैसे ज्यादा करू।

    • admin

      Mr. Ravi Kumar,

      Apni samasya hamein batane ke liye dhanneywad. Aap hamare sikander e azam capsule ka istemal karke apni in sabhi samasyaon se hamesha ke liye mukti pa sakte hain. Sikander e azam capsule ek aisi ayurvedic dawayi hai jiske istemal karne se kisi bhi tarah ka dhatu rog theek ho jata hai aur peshab ke sath ya apne aap girne wala katra bhi girna band ho jata hai. Sikander e azam capsule se ling ki lambayi aur motayi tezi se badhti hai aur aapka ling 2 inch tak lamba aur bilkul seedha ho jata hai aur iske sath sath aapki sex power aur sex time bhi bahot zada badh jata hai. Aapko shighrpatan se bhi mukti mil jati hai. Aapki Bachpan ki galtiyon aur badhti umar ke kaaran aapke upar napunsakta ka jo khatra bana hua hai usse bhi aapko mukti mil jati hai aur apne pure shareer me nayi takat mehsus karne lagte hain. Hum aapko sikander e azam capsule ke bare aur bhi jaankari dene ja rahe hain aap nichey iski sabhi khubiyan padh sakte hain.

      यदि आप लिंग की लम्बाई बढ़ाना चाहते है या आपके छोटे लिंग होने के कारण आपका साथी असंतुष्ट है तब हाशमी दवाखाना ने इसके लिए एक समाधान किया है. लंबे समय के बाद हर्बल दवा में शोध वे एक सूत्र विकसित किया है – सिकंदर-ए-आज़म हर्बल कैप्सूल. दुनिया भर के सभी लोग इसे प्रयोग कर रहे हैं और संतुष्ट सेक्स जीवन व्यतीत कर रहे हैं . आप इस हर्बल कैप्सूल लेने के बाद की कल्पना कर सकते हैं कि कैसे आप अपने लिंग की लंबाई और परिधि में बड़ा बदलाव करेंगे

      जब लिंग वृद्धि के बारे में बात करते हैं, तब एक नाम सिकंदर-ए-आज़म है जोकि हमेशा मस्तिष्क में आता है. हमें अपने उत्पाद में मजबूती से इतना विश्वास है की हम आप की संतुष्टि के लिए हमारे प्रतियोगियों के बीच आपके लिंग में वृद्धि कर सकने की गारंटी देते हैं, लाखों पुरुषों ने सफलतापूर्वक बड़ा, मजबूत erections हासिल किया है और एक बेहतर सेक्स जीवन वियातीत कर रहे है.
      अपने छोटे लिंग को कैसे बड़ा करे ?

      सर्वश्रेष्ठ तरीका सिकंदर-ए-आज़म हर्बल कैप्सूल है

      हमारे मिशन पुरुषों के लिए लिंग की इष्टतम स्वास्थ्य की पेशकश है. ऐसा करके, हम उनके आत्म सम्मान, आत्मविश्वास और जीवन की गुणवत्ता एवं प्रदर्शन को अधिक बेहतर बनाते हैं जब आप सिकंदर आजम उपयोग करेंगे तब आप की समझ में आ जायेगा की क्यों यह सबसे अच्छा उत्पाद है? इसके अतिरिक्त सिकंदर-ए-आज़म सुरक्षित, अपने यौन स्वास्थ्य को बढ़ाने के लिए सबसे प्रभावी और बिना किसी सहप्रभाव के साबित हुआ है. परंपरागत रूप से, चिकित्सा समुदाय आक्रामक नुस्खे या आक्रामक सर्जरी के साथ समस्याओं का जवाब देने के द्वारा एक प्रतिक्रियावादी दृष्टिकोण शिथिलता को ले लिया है. दुर्भाग्य से, इन तरीकों से अक्सर अवांछित और भी खतरनाक दुष्प्रभाव सामने आये हैं.
      सिकंदर-ए-आज़म कैप्सूल
      सिकंदर-ए-आज़म कैप्सूल स्वाभाविक रूप से लिंग का आकार बढ़ता है और पुरुष लिंग के प्रदर्शन को बढ़ाने मैं काम आता है

      उत्तेजित अवस्था में शिश्न की लम्बाई ओर मोटाई बहुत हद तक इस बात पर निर्भर करती है कि उत्थान केन्द्र कितना सशक्त है। जैसे ही मस्तिष्क में काम जाग्रत होता है वैसे ही वह उत्थान केन्द्र को लिंग के स्पंजी टिशू में रक्त भेजने का आदेश भेजता है। यदि उत्थान केन्द्र सशक्त है तो वह उसी अनुपात में उतना ही अधिक रक्त लिंग में एकत्रित करने में समर्थ होता है जिसके फलस्वरूप लिंग का आकार उसी अनुपात में बड़ा हो जाता है। अगर उत्थान केन्द्र दुर्बल हो चुका है तो लिंग की लम्बाई, चैड़ाई अपेक्षाकृत कम होती है।

      नपुंसकता की ओर बढ़ रहे युवकों में जहां काम केन्द्र दुर्बल पड़ जाते हैं वहां उत्थान केन्द्र विशेष रूप से प्रभावित होता है और दुर्बल उत्थान केन्द्र पर्याप्त मात्रा में लिंग में रक्त एकत्रित करने में असमर्थ होने के कारण लिंग का आकार प्राकृत रूप में नहीं आ पाता है। जैसे-जैसे उत्थान केन्द्र की दुर्बलता बढ़ती जाती है वैसे-वैसे लिंग की लम्बाई और चौड़ई कम होती जाती है। उत्तेजित लिंग के सामान्य से कम आकार को देखकर निष्कर्ष निकालना चाहिए कि उत्थान केन्द्र निर्बल हो चुका है। यदि यह दुर्बलता बढ़ती रहती है तो एक अवस्था ऐसी आती है जब उत्थान केन्द्र में बिल्कुल रक्त नहीं भर पाता और परिणामस्वरूप लिंग में उत्थान नहीं होता। इसको ही पूर्ण नपुंसकता कहते हैं। ऐसी अवस्था में सिकंदर-ए-आज़म का प्रयोग करने से उत्थान केन्द्र को मज़बूत करता है तथा लिंग के बड़े प्रकोष्ट (कार्पस केवेरनोसम) में रक्त इकट्टा होने लगता है तथा इस क्रीम के प्रयोग से स्पंजी उतक को मजबूती प्राप्त होती है जिससे यह नसों पर दाब बना कर रक्त को वापस बाहर नहीं जाने देता तथा लिंग का आकर को बड़ा तथा खड़ा रखता है!

      सिकंदर-ए-आज़म से आप अपना लिंग विस्तार तो कर ही सकते है साथ ही साथ अपना सम्भोग समय भी 30 से 35 मिनट बढ़ा सकते है। सिकंदर-ए-आज़म लिंग वर्धक की सबसे अचूक व अनोखी औषधि है उम्र की अधिकता के कारण या स्वास्थ्य नवयुवक शौकीन लोग भी सिकंदर-ए-आज़म का सेवन करके अपनी मर्दाना ताकत कई गुना बढ़ा सकते है। मधुमेह के रोगी भी काम शक्ति कोर्ष का सेवन कर कमजोरी दूर कर सकते है।

      लिंग छोटा,पतला व टेड़ा होने के कारण

      हमारा लिंग सामान्यता तीन प्रकोष्ठ (चैंबर) में बटा होता है जिनमे दो भाग कोपर्स केवेरनोसम (Corpus Cavernosum) व एक कोपर्स स्पोंजीयोसम (Corpus Spongiosum)जिनमे इसमें लिंग के उपरी भाग में दो बड़े बड़े प्रकोष्ठ होते हैं ये दोनों प्रकोष्ठ मिलकर कोपर्स केवेरनोसम के इरेक्टाइल टिशु का गठन करता है जोकि लिंग के उत्थान में सहायता करता है . यदि व्यक्ति हस्तमैथुन करता है तब हाथ की रगढ़ व दबाव से कोपर्स केवेरनोसम शतिग्रस्त हो जाते हैं जिससे लिंग के बड़े प्रकोष्ट (कार्पस केवेरनोसम) में रक्त इकट्टा नही हो पता जिससे लिंग में उत्तेजना आनी बंद हो जाती है और लिंग की वृद्धि भी रुक जाती है दूसरी तरफ यदि कार्पस केवेरनोसम में एक तरफ रक्त का प्रवाह अधिक होता है और दूसरी तरफ कम होता है तब लिंग में टेढ़ेपन की समस्या हो जाती है

      सिकंदर-ए-आज़म कैप्सूल

      यह शिकायत होना आजकल आम बात हो गई है। गलत आचार-विचार इसका प्रमुख कारण है। इस समस्या को दूर करने के लिए सिकंदर-ए-आज़म कैप्सूल बहुत अधिक प्रभावशाली है यह एक हर्बल कैप्सूल है जो लिंग आकार और कामेच्छा बढ़ाता है. यह अनूठा लिंग वृद्धि कैप्सूल समय से पहले थकना या पतन हो जाना आदि समस्याओं को भी दूर करता है. यदि आप जब प्यार करने से शर्मिंदा हो रहे हैं, वहाँ केवल एक ही विकल्प है यानी सिकंदर-ए-आज़म कैप्सूल

      यह प्राकृतिक रूप से लिंग की वृधि के लिए भी काम करता है दैनिक रूप से एक कैप्सूल, नयी उमंग नया जोश पैदा करता है साथ ही पुरुषों में नपुंसकता की सारी समस्याओं को दूर करता है. सिकंदर आजम कैप्सूल, सिर्फ एक बार एक दिन में सेवन करने से यह लिंग में रक्त प्रवाह को तीर्व कर देता है और कार्पस केवेरनोसम नामक उतक में रक्त इकट्टा होकर लिंग का आकर बढ़ा देता है. सिकंदर-ए-आज़म हर्बल कैप्सूल फार्मूले की मदद से आप पहले से कहीं ज्यादा बेहतर सेक्स करने में सफल होंगे. अब तक दुनिया भर के लाखों पुरुषों को प्राकृतिक रूप से लाभ पहुंचा चूका है.
      सिकंदर-ए-आजम (महीने से अधिक) के लगातार उपयोग पुरुष बांझपन के मामलों में मदद करता है, सिकंदर आजम की कार्रवाई स्थायी है. यह भी दीर्घकालिक लाभ है. सिकंदर-ए-आज़म मधुमेह के रोगियों के लिए प्रभावी है. सिकंदर-ए-आज़म शक्तिशाली पोषक तत्वों और शक्तिशाली जड़ी बूटी का मिश्रण है. वह लिंग का आकार बढ़ाने के लिए और यौन प्रदर्शन को बढ़ावा देने के साथ विकसित की है. सिकंदर आजम को लिंग बढ़ाने के लिए और लिंग के लिए रक्त का प्रवाह बनाए रखने के लिए डिजाइन किया गया थाए निर्माण के दौरान और लिंग का आकार दृढ़ता बढ़ रही है. सिकंदर-ए-आज़म एक जड़ी बूटियों है जो लंबी अवधि के प्रभाव के लिए लिया जाना जाता है!

      यह प्राकृतिक रूप से लिंग की वृधि के लिए भी काम करता है दैनिक रूप से एक कैप्सूल, नयी उमंग नया जोश पैदा करता है साथ ही पुरुषों में नपुंसकता की सारी समस्याओं को दूर करता है. सिकंदर-ए-आज़म कैप्सूल, सिर्फ एक बार एक दिन में सेवन करने से यह लिंग में रक्त प्रवाह को तीर्व कर देता है और कार्पस केवेरनोसम नामक उतक में रक्त इकट्टा होकर लिंग का आकर बढ़ा देता है. सिकंदर-ए-आज़म हर्बल कैप्सूल फार्मूले की मदद से आप पहले से कहीं ज्यादा बेहतर सेक्स करने में सफल होंगे. अब तक दुनिया भर के लाखों पुरुषों को प्राकृतिक रूप से लाभ पहुंचा चूका है.
      सिकंदर-ए-आज़म कैप्सूल एक हर्बल दवा है जो सेक्स की अपक्षयी जटिलताओं और यौन प्रदर्शन तथा सहनशक्ति में वृद्धि करता है तथा सेक्स करते समय आ रही सभी समस्याओं से मुक्ति दिलाने में आपकी मदद करता है. सिकंदर-ए-आज़म कैप्सूल सुरक्षित और प्रभावी है यह कामेच्छा बढ़ाता है. यह एक अनूठा कैप्सूलहै जो समय से पहले थकना या शीघ्र पतन हो जाना आदि समस्याओं को भी दूर करता है.

      सिकंदर आजम कैप्सूल एक 100% हर्बल जड़ी बूटी युक्त एक कैप्सूल के रूप में दवाई है जोकि सेक्स करते समय व्यक्ति के शरीर में होने वाली कमजोरी, लिंग में तनाव की कमी, शरीर में दर्द, आदि शिकायतों से राहत प्रदान करने में मदद करता है

      सवाल और जवाब

      सिकंदर-ए-आज़म हर्बल कैप्सूल कितनी प्रभावशाली होता है?
      शारीरिक अथवा मानसिक कारणों से लिंग के खड़े न हो पाने के रोग में सिकंदर आजम का उपयोग किया जाता है। जिन पुरूषों को हृदय तंत्री का रोग, मौल्लिटस मधुमेह, उच्च रक्त चाप, अवसाद हृदय की बाईपास सर्जरी हो चुकी हो और जो पुरूष अवसाद मुक्ति या रक्त चाप से मुक्ति देने वाली दवाएं लेते हैं उन में लिंग को खड़ा करने के लिए इसे प्रभावशाली माना जाता है। चिकित्सा प्रयोगों में, देखा गया है कि मधुमेह वाले 60 प्रतिशत और बिना मधुमेह वाले 80 प्रतिशत लोगों को सिकंदर आजम से लिंग के खड़े होने में बेहतर मदद मिलती है।

      सिकंदर-ए-आज़म कितनी मात्रा में लेनी चाहिए?
      सिकंदर आजम देते समय डॉक्टर रोगी की उम्र स्वास्थ्य की सामान्य स्थिति और जो दवाएं वह ले रहा हो उन सब का ध्यान रखता है। प्रारम्भ करने की अधिकतर पुरूषों में एक कैप्सूल होता है, पर सह प्रभावों एवं प्रभविषुणता को देखते हुए डॉक्टर मात्रा को बढ़ा या घटा सकता है।

      सिकंदर-ए-आज़म के सह प्रभाव क्या होते हैं?
      बिना विशेष सह प्रभावों के सिकंदर-ए-आज़म अधिकतर लोगों को लाभ पहुंचता है। इस दवा के हर्बल होने के कारण अब तक कोई सह प्रभाव सामने नहीं आया है
      Aasha karte hain ki ye pura email padhne ke baad aapke mann ke sabhi sandeh door ho jayenge aur aap bilkul positive frame of mind se sikander e azam ka sevan karenge. Aapko kam se kam 2 mahine tak is capsule ka sevan karna hoga. Aur agar aap aisa kar lete hain to phir future me aapko kisi pareshani ka saamna nahi karna padega.

      Dawayi mangwane ke liye aap hamein apna pura address apne mobile number ke sath email kar den hum aapko ye dawayi by post aapke address pe pohcha denge aap delivery ke time hi post man ko payment kar dena aur apna gupt parcel le lena. Is 1 mahine ke dawayi ka kimat 3800/- rupay hai. Dhanneywad

Leave a Comment

You must be logged in to post a comment.