• 11
  • Oct
  • 0
Author

अक्सर शादी की रात क्यों होती है घबराहट?

शादी के बाद नवविवाहितों के लिए सबसे पहला मौका आता है वेडिंग नाइट यानी सुहागरात का। ये समय हर नवविवाहितों के लिए काफी मुश्किल होता है। इस वक्त लड़के और लड़की दोनों को बेहद उत्सुकता और चिंता होती है। ये एंजाइटी महिला और पुरुषों में कई स्तरों पर हो सकती है। दोनों के मन में ऐसे कई भाव होते हैं जो डर, चिंता या घबराहट का सबब होते हैं। शादी से पहले हर लड़का-लड़की अपनी पहली सुहाग रात के बारे में काफी कुछ सोचते हैं। उन्हें अपनी शादी से जितनी ज्यादा उम्मीदें होती हैं उतनी ही पहली रात के बारे में सोंच कर घबराहट भी होती है। शादी के दिन से पहले घबराहट और चिंता करना पूरी तरह सामान्य है। वैसे भी आप ऐसा कदम उठाने जा रहे है, जो आपके जीवन को पूरी तरह बदलने वाला है। आपकी घबराहट को दूर करने के लिए हम आपको कुछ सुझाव दे रहे है।

पहले यह फरक कर लें कि क्या आप शादी कि तनाव या टेंशन में हैं या फ़िर इस रिश्ते पर संदेह कर रहे हैं?

एक साथ शादी को योजना बनाना कठिन और तनावपूर्ण हो सकता है और शादी को लेकर थोड़ा नर्वस होना सामान्य है। ध्यान से सोचे, आप कैसा महसूस कर रहे हैं और वाकई में आपको कैसा महसूस हो रहा है। आप कल्पना करे यदि आपकी योजना बनाने की सारी समस्याए जादूई तरीके से दूर हो जाये, तो क्या आप अब भी चिंता करेंगे।

1. आप शादी की तैयारियों की हलचल से कुछ समय दूर रहे।

यदि आप शादी के तनाव से गुजर रहे है तो आप दोनों एक साथ कुछ महत्वपूर्ण समय साथ गुज़ारें।

2. यदि आपको अपने रिश्ते पर ही शक या संदेह हो रहा है-

तो उसे अनसुना ना करें और एक बार गंभीरता से फ़िर सोच लें

3. शादी को लेकर अपने डर के बारे में अपने भावी साथी से बात करें।

क्या वो डर आपकी व्यक्तिगत आजादी या स्वतंत्रता खोना, या आपके साथी के व्यक्तित्व और चरित्र को लेकर है।

4. आप अपने रिश्ते में आ रही या आने वाली समस्याओं को दूर करने के बारे में सोचे।

क्या आपका आपका साथी के विचार भी आपके समाधानों से मेल खाते हैं?

5. शादी के आस पास होने वाले दबाव के कारण शादी नहीं करे।

बेशक सारा संसार भविष्य में आपसे शादी की उम्मीद कर रहा हो, लेकिन यदि आपको शादी को लेकर कोई गंभीर शक है, तो आप इसे स्थगित कर सकते हैं और चीजों को आराम से और शांतिपूर्वक गौर सकते हैं।

6. एक कदम पीछे हटे और इस शादी के बारे में दोबारा सोचें

आप इस एक दिन की वजह से किसी भी प्रकार को कोई गलत कदम ना उठाएं

7. शादी पूर्व सेक्स काउंसलिंग

आप चाहे तो शादी से पहले सेक्स काउंसलिंग ले सकते हैं। इस काउंसलिंग से आपकी घबराहट और डर थोड़ी कम होगा। साथ ही आपको अपनी जीवन के बारे में समझने में आसानी होगी। शादी के बाद यौन संबंध इस रिश्ते का एक जरूरी हिस्सा होता है इसलिए उसके बारे में जानकारी हासिल करने में शर्म कैसी।

Avatar
admin

Leave a Comment

You must be logged in to post a comment.